अनियंत्रित ट्रैक्टर नाली में पलटी, दो की गई जान, रातभर ट्रैक्टर के नीचे दबा रहा शव


जनसंदेश न्यूज
गभिरन (जौनपुर)।
बनुआडीह माडल तालाब के पास शाहगंज वाया प्रयागराज राजमार्ग पर शनिवार की देर शाम सीमेंट लादकर कर जा रहा ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर बगल नाले में पलट गया। चालक और उस पर सवार एक मजदूर की दर्दनाक मौत हो गई। जब कि दूसरा मजदूर कूद कर भाग अपनी जान बचा ली। दोनों युवकों का शव पूरी रात ट्रैक्टर के नीचे दबा पड़ा रहा। ग्रामीणों ने सुबह पलटा ट्रैक्टर देख इसकी सूचना पुलिस को दिया। मौके पर पहुँची पुलिस ने जेसीबी की मदद से ट्रैक्टर और उसके नीचे दबे दोनों शवो को बाहर निकाला। उन्हे कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण हेतु भेज दिया गया। मौके पर पहुँचें स्वजननो की चीख पुकार से माहौल गमगीन हो गया।

उजाला बिल्डिंग मैटेरियल तिघरा बाजार के संचालक विनोद यादव ने बताया कि इसी बाजार में अपनी ससुराल में रहकर मोहम्मद इरफान (27) पुत्र यशू और मोजीपुर गांव निवासी रूदल पाल (28) पुत्र राम अजोर तथा खुटहन गांव के सौरभ यादव तीनों उसकी दुकान पर ट्रैक्टर चलाने के साथ साथ मेहनत मजदूरी करते थे। शनिवार के तीसरे पहर तीनों लोग ट्रैक्टर लेकर शाहगंज से सीमेंट लाने गये थे। जहाँ से वे रात लगभग दस बजे उनसे मोबाइल पर बात हुई तो वे वापस लौट रहे थे। कुछ देर बाद फिर फोन करने पर इरफान और रूदल दोनों का मोबाइल स्विच आफ बताने लगा। रात में तलाश भी की गई लेकिन कुछ पता नहीं चला।

भोर में कुछ ग्रामीण उक्त राजमार्ग पर टहल रहे थे कि उनकी नजर बगल नाले में पलटे ट्रैक्टर पर गयी तो वे सन्न रह गये। इसकी सूचना 112 पुलिस को दी गई। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर दुकान संचालक और मजदूरों के स्वजन भी पहुंच गये। जेसीबी की सहायता से जब ट्रैक्टर निकाला गया तो उसके नीचे दबे इरफान और रूदल का शव दिखाई दिया। दोनों के मृत शरीर को देख स्वजन दहाड़े मारकर रोने बिलखने लगे। घटना की पूरी रात किसी को कोई खबर नहीं लग सकी।

बगल गांव गोसाई पुर के कुछ ग्रामीणो ने बताया कि एक युवक देर रात को शरीर में कीचड़ लपेटे खुटहन की तरफ भागता हुआ दिखा था। कयास लगाए जा रहे है कि शायद वह सौरभ यादव रहा होगा। जो अपनी जान बचाने को ट्रैक्टर से कूद भाग गया होगा। फिलहाल उसके परिवार वाले उसे भी अभी लापता बता रहे है। रात में हुई घटना से पुलिस भी अनभिज्ञ रही। यह उसकी भी सक्रियता पर प्रश्न चिन्ह लगा रहा है।