गाजीपुर में प्रेमी के थप्पड़ मारने से किशोरी की मौत, परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज


जनसंदेश न्यूज
सैदपुर (गाजीपुर)।
थाना क्षेत्र के सिधरा गांव में शुक्रवार की शाम एक हैरान कर देने वाली घटना प्रकाश में आई। जहां एकतरफा प्यार में उसी गांव के एक प्रेमी ने किशोरी को एक थप्पड़ मार दिया। जिसके बाद किशोरी की तबीयत बिगड़ गई और कुछ ही देर में उसकी मौत हो गई। परिजनों की तहरीर पर शनिवार की सुबह स्थानीय थाने में इस संदर्भ का मुकदमा पंजीकृत कराया गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया।

मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में काम करने वाले सिधरा गांव निवासी पप्पू राजभर लॉकडाउन के दौरान बीते वर्ष मई महीने में अपने पूरे परिवार के साथ गांव लौटे थे। उनके साथ उनकी सबसे बड़ी बेटी रेशमा 16, उससे छोटी बेटी नेहा 12, फिर सबसे छोटा बेटा ऋषि 4 वर्ष और पत्नी शोभा देवी गांव आ गए थे। इस दौरान रेशमा के गांव निवासी चाचा मनोज के साथ मेलजोल रखने वाला उसी गांव का निवासी मूरज राजभर पुत्र पप्पू राजभर घर आने जाने के दौरान रेशमा को चाहने लगा।

एक तरफा प्यार में मूरज कई बार रेशमा को फोन करने लगा। जिसपर रेशमा के परिजनों ने कई बार मूरज को ऐसा नहीं करने के लिए कहा। शुक्रवार की शाम लगभग 3 बजे जब घर के सभी लोग खेतों में काम करने चले गए, तब मूरज रेशमा से फोन पर कुछ बात कर, शाम 5 बजे उसके घर पहुंच गया।

मौके पर मौजूद रेशमा की छोटी बहन नेहा ने परिजनों को बताया कि घर पहुंचते ही सूरज रेशमा से झगड़ा करने लगा और उसे एक थप्पड़ मार दिया। इसके बाद से ही रेशमा की तबीयत बिगड़ने लगी। सूचना पर पहुंचे रेशमा के परिजन उसे लेकर तत्काल नगर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे, जहां से उसे वाराणसी के लिए रेफर कर दिया गया। जहां पहुंचने पर डॉक्टर ने रेशमा को मृत घोषित कर दिया। कोतवाल रविंद्र भूषण मौर्य ने कहा कि शव के पोस्टमार्टम रिपोर्ट अनुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी। वैसे सिर्फ एक थप्पड़ की चोट से मौत की संभावना बेहद कम है।