dummy-pic

चीन-भारत कोर कमांडर स्तरीय बैठक का 10वां दौर, सेना हटाने पर सहमति

नई दिल्ली : भारत और चीन के बीच कोर कमांडर स्तर की दसवें दौर की बातचीत करीब 16 घंटे तक चली. पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी तटों से डिसइंगेजमेंट के बाद भारत और चीन के बीच बाकी के बचे फ्रिक्शन पॉइंट से डिसइंगेजमेंट पर चर्चा की उम्मीद की जा रही थी.

मोल्दो में हुई ये बातचीत रविवार की देर रात करीब 2 बजे खत्म हुई. दोनों पक्षों के बीच गोगरा हाइट्स, हॉट स्प्रिंग्स और डेपसांग के मैदानी इलाकों में तनाव घटाने पर बातचीत हुई है.

पश्चिमी क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ अन्य मुद्दों पर उनके विचारों का स्पष्ट और गहन आदान-प्रदान हुआ। दोनों पक्ष अपने सत्तासीन नेताओं की महत्वपूर्ण सहमति का अनुसरण करने, अपने संचार और संवाद को जारी रखने.

धरातल पर स्थिति को संतुलित और नियंत्रित करने, शेष मुद्दों के पारस्परिक रूप से स्वीकार्य समाधान को निरंतर और व्यवस्थित तरीके से आगे बढ़ाने पर सहमत हुए, ताकि सीमावर्ती क्षेत्रों में दोनों देश संयुक्त रूप से शांति और सौहार्द बनाए रख सकें।