नोडल अधिकारी, डीएम के सामने ग्रामीणों ने लगाई समस्याओं की झड़ी

मछलीशहर: मछलीशहर के जमुहर गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में शनिवार को चौपाल का आयोजन किया गया. चौपाल में नोडल अधिकारी जीएस प्रियदर्शी, डीएम मनीष वर्मा एवं सीडीओ अनुपम के सामने ग्रामीणों ने समस्याओं की झड़ी लगा दी. देखना होगा कि संबंधित अधिकारी ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण करते हैं या वही ढाक के तीन पात.

नोडल अधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने जमुहर गांव स्थित नव निर्मित अटल मनरेगा पार्क का उद्घाटन किया। इसके बाद प्राथमिक विद्यालय में जन चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी. चौपाल में एक के बाद एक ग्रामीणों ने समस्याओं की झड़ी लगा दी.

चौपाल में ग्रामीणों ने बताया कि गांव के दलित बस्ती में बिजली अभी तक नहीं पहुँच सकी है. महिला सुधा ने बताया कि विभाग द्वारा हजारों रुपए का बिल भेजा जा रहा है. इस पर अधिकारियों ने विद्युत विभाग के एक्सीएन को फटकार लगाई. गांव में लगभग 1200 परिवार हैं, लेकिन मात्र 265 ही कनेक्शन हैं. हरिजन बस्ती निवासी दुलमा ने बताया कि अभी तक बस्ती का पहुंच मार्ग का निर्माण नहीं हो सका है.

गांव के निवर्तमान प्रधान श्याम सुंदर बिंद से जिलाधिकारी ने विद्यालय नहीं जाने वाली छात्राओं के बारे में जानकारी ली. प्रधान ने बताया कि मात्र एक छात्रा है जो स्कूल नहीं जाती. इस संबंध में डीएम ने आशा, बीडीओ व एबीएसए को निर्देशित किया. किसान क्रेडिट कार्ड व धान क्रय केंद्र पर हो रही समस्या को गांव निवासी लाल बहादुर उठाया. इसपर डीएम ने उपजिलाधिकारी को निराकरण के निर्देश दिए.

गांव में कुल 10 महिला स्वयं सहायता समूह हैं. जिलाधिकारी ने कहा कि जिस महिला समूह को बैंक से संबंधित कोई समस्या आती हैं तो वे बीडीओ को अवगत कराएं.
चौपाल में आवारा मवेशियों द्वारा फसलों को पहुंचाए जा रहे नुकसान, ग्राम आरोग्य मेला और ग्राम प्रधान द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों में लापरवाही का मुद्दा भी गूंजा. चौपाल में डीपीआरओ के अनुपस्थित रहने पर नोडल अधिकारी ने नाराजगी जताई.

चौपाल में सीडीओ अनुपम शुक्ला, कॉपरेटिव शिल्पा तिवारी, बीडीओ राजन राय, एसडीएम अंजनी सिंह, एक्सईन रामानंद मिश्रा, अमर सिंह पटेल, आरपी विश्वकर्मा, अनिल सिंह सहित सैकड़ों नागरिक उपस्थित रहे.